ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म

स्टॉक इंडेक्स

स्टॉक इंडेक्स
मिले जुले ग्लोबल संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजार में शानदार खरीदारी देखने को मिली है. (image: pixabay)

SGX NIFTY का संकेत, कमजोरी के साथ खुल सकते हैं भारतीय बाजार

मंगलवार को बाजार में आई तेजी की रफ्तार कम हो सकती है। वैश्विक बाजार से आज सकारात्मक संकेत नहीं मिल रहे हैं। SGX निफ्टी आज गिरावट के संकेत दे रहा है। इसमें 81 अंकों की गिरावट देखी जा रही है और यह 18413 के स्तर पर है।

वहीं ग्लोबल मार्केट में मजबूती के बीच बैंकिंग और ऑटो इंडेक्स में तेजी की मदद से मंगलवार को सेंसेक्स में 248 अंकों का उछाल दर्ज किया गया और यह अपने ऑल टाइम हाई पर पहुंच गया। इधर उतार-चढाव भरे कारोबार में मंगलवार को सेंसेक्स 61873 पर बंद हुआ।

अमेरिकी बाजार की बात करें तो डाओ जोन्स में 0.17 फीसदी, S&P 500 में 0.87 फीसदी और Nasdaq में 1.45 फीसदी की तेजी दर्ज की गई। डॉलर इंडेक्स 0.10 फीसदी की गिरावट के साथ 106.42 के स्तर पर है। Crude oil इस समय 93.86 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर है.

Bikaji Foods International: स्टॉक आज से एक्सचेंजों में करेगा शुरूआत, करीब 8-10 फीसदी की लिस्टिंग गेन होने की संभावना

NDTV: NDTV के प्रमोटर कंपनी में अतिरिक्त शेयरों के लिए अदाणी समूह के ओपन ऑफर को कानूनी चुनौती नहीं दे सकते

NSE और BSE क्या है?

बीएसई का मतलब है ‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ और एनएसई का मतलब है ‘नेशनल स्टॉक एक्सचेंज’। हालांकि हर कोई जानता है कि ये दोनों शेयर्स और बॉन्‍ड्स जैसी सिक्योरिटीज से जुड़े हुये हैं, लेकिन इनका असली मतलब शायद हर किसी को पता नहीं होगा। आइये हम बताते है क्या हैं बीएसई और एनएसई। भारत में दो शेयर बाज़ार हैं: बीएसई यानि ‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ और एनएसई यानि ‘नेशनल स्टॉक एक्सचेंज’।

भारत में दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज :

  • BSE यानि (Bombay Stock Exchange), की स्थापना सन 1875 में हई थी।
  • NSE यानि (National Stock Exchange) की स्थापना सन 1992 में हुई थी।

दोनों एक्सचेंज के सूचकांक(INDEX) :

  • NSE का सूचकांक NIFTY (‘N’=NSE तथा ‘IFTY’=fifty यानि NSE-50)| “NIFTY INDEX” NSE में सूचीबद्ध शेयरों का प्रतिनिधित्व करती है। और
  • BSE का सूचकांक “SENSEX” (“सेंसिटिव इंडेक्स”) । “SENSEX INDEX” BSE में सूचीबद्ध शेयरों का प्रतिनिधित्व(represent) करती है।

NSE और BSE index की गणना विधि क्या है ? :

SENSEX और NIFTY INDEX की गणना “free float market capitalization” विधि से की जाती है। यानी सेन्सेक्स की गणना “मार्केट कैपिटलाइजेशन-वेटेज मेथेडोलॉजी” के आधार पर की जाती है।

National Stock Exchange क्या है ?

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज मुंबई में स्थित है, यह भारत का सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है। यह 1992 से अस्तित्व में आया और यहीं से इलेक्ट्रोनिक एक्सचेंज सिस्टम की शुरुआत हुई और पेपर सिस्टम खत्म हुआ।

एनएसई ने 1996 से निफ्टी की शुरुआत की, जो टॉप 50 स्टॉक इंडेक्स दे रहा था और यह तेजी से भारतीय पूंजी बाज़ार की रीड बना। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज को 1992 को कंपनी के रूप में पहचान मिली और 1992 में इसे सिक्योरिटीज कॉन्ट्रैक्ट्स एक्ट, 1956 के तहत कर भुगतान कंपनी के रूप में स्थापित किया गया।

National stock exchange दुनिया का 11 वां सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है। इसका बजार पूंजीकरण (market capitalization) अप्रैल 2018 तक 2.27 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुच गया था ।

BSE यानि BOMBAY STOCK EXCHANGE क्या है ? :

बीएसई की स्थापना 1875 में हुई, इसे नेटिव शेयर और स्टॉक ब्रोकर एसोसिएशन’ के नाम से जाना जाता स्टॉक इंडेक्स था। इसके बाद, 1957 के बाद भारत सरकार ने सिक्योरिटीज कॉन्ट्रैक्ट रेगुलेशन एक्ट, 1956 के तहत इसे भारत के प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज के रूप में मान्यता दे दी।

सेन्सेक्स की शुरुआत 1986 में हुई, यह भारत का पहला इक्विटी इंडेक्स है जो कि टॉप 30 एक्सचेंज ट्रेडिंग कंपनियों को एक पहचान दे रहा था। सेंसेक्स का आधार वर्ष 1978-79 है

1995 में, बीएसई की ऑनलाइन ट्रेडिंग शुरू हुई, उस समय इसकी क्षमता एक दिन में 8 मिलियन ट्रांजेक्शन थी।

बीएसई एशिया का पहला स्टॉक एक्सचेंज है, और यह मार्केट डेटा सर्विस, रिस्क मैनेजमेंट, सीडीएसएल (सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज लिमिटेड), डिपॉजिटरी सर्विसेज आदि सेवाएँ प्रदान करता है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज दुनिया का 12वा बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है, आउर जुलाई 2017 को इसका बाजार पूंजीकरण 2 ट्रिलियन डॉलर से ज़्यादा था।

बीएसई और एनएसई में मुख्य अंतर :

  • बीएसई और एनएसई दोनों भारत के बड़े शेयर बाज़ार हैं।
  • बीएसई पुराना और एनएसई नया है।
  • टॉप स्टॉक एक्सचेंज में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 10वां स्थान है वहीं एनएसई का 11वां।
  • इलेक्ट्रॉनिक एक्चेंज सिस्टम पहली बार एनएसई में 1992 में और बीएसई में 1995 में शुरू किया गया।
  • कितने शेयरों को शामिल किया जाता है : एनएसई का निफ्टी इंडेक्स 50 स्टॉक इंडेक्स दिखाता है वहीं बीएसई का सेन्सेक्स 30 स्टॉक एक्सचेंज दिखाता है।
  • बीएसई को 1957 में स्टॉक एक्सचेंज के रूप में पहचान मिली वहीं एनएसई को 1993 में पहचान मिली।

BSE और NSE के स्‍थापना को लेकर अंतर :

  1. एनएसई भारत का सबसे बड़ा एक्सचेंज है, बीएसई सबसे पुराना है।
  2. बीएसई 1875 में स्थापित हुआ, जब कि एनएसई 1992 में।
  3. एनएसई का बेंचमार्क इंडेक्स निफ्टी है, जब कि बीएसई का सेन्सेक्स है। एनएसई में 1696 और बीएसई में 5749 कंपनियाँ सूचीबद्ध हैं।
  4. इनकी ग्लोबल रैंक 11 और 10 है।

निष्कर्ष : नेशनल स्टॉक एक्सचेंज और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज दोनों भारतीय पूंजी बाजार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। रोज लाखों ब्रोकर और निवेशक इन स्टॉक एक्सचेंजों में ट्रेडिंग करते हैं। ये दोनों महाराष्ट्र के मुंबई में स्थापित हैं और सेबी (भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड) से मान्यता प्राप्त हैं।

आपके सुझाव आमंत्रित है। इस आर्टिकल से संबंधित किसी भी प्रकार का संशोधन, आप हमारे साथ साझा कर सकते हैं। यह लेख आपको कैसा लगा अपनी राय निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखें ।

Stock Market: सेंसेक्स 465 अंक बढ़कर बंद, निफ्टी 17525 पर, M&M टॉप गेनर, SBI टॉप लूजर

आज के कारोबार में प्रमुख एशियाई बाजारों में बिकवाली देखने को मिल रही है. वहीं स्टॉक फ्यूचर्स में भी कमजोरी देखने को मिली है.

Stock Market: सेंसेक्स 465 अंक बढ़कर बंद, निफ्टी 17525 पर, M&M टॉप गेनर, SBI टॉप लूजर

मिले जुले ग्लोबल संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजार में शानदार खरीदारी देखने को मिली है. (image: pixabay)

Stock Market Update Today: मिले जुले ग्लोबल संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजार में शानदार खरीदारी देखने को मिली है. आज सेंसेक्स और निफ्टी दोनों इंडेक्स में जोरदार तेजी रही. सेंसेक्स 450 अंकों से ज्यादा मजबूत हुआ. जबकि निफ्टी 17500 के पार निकल गया. कारोबार में बैंक और फाइनेंशियल शेयरों में खरीदारी रही है. निफ्टी पर दोनों इंडेक्स करीब 1 फीसदी मजबूत हुए हैं. आटो इंडेक्स भी 1 फीसदी मजबूत हुआ. आईटी इंडेक्स लाल निशान में बंद हुआ है. मेटल इंडेक्स में 1 फीसदी से ज्यादा तेजी रही. एफएमसीजी और फार्मा इंडेक्स भी हरे निशान में बंद हुए हैं. फिलहाल सेंसेक्स में 465 अंकों की बढ़त है और यह 58,853.07 के लेवल पर बंद हुआ है. जबकि निफ्टी 128 अंक बढ़कर 17525 के लेवल पर बंद हुआ है. आज हैवीवेट शेयरों में मिला जुला रुख है. सेंसेक्स 30 के 19 शेयर हरे निशान में तो 13 लाल निशान में बंद हुए हैं. आज के टॉप गेनर्स में M&M, BAJAJFINSV, HDFCBANK और AXISBANK हैं. तो टॉप लूजर्स में SBIN और ULTRACEMCO शामिल हैं.

Stock Market Live: शेयर बाजार की हर खबर का अपडेट

अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी ने लगातार दूसरे साल अपनी प्रमुख कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज से कोई वेतन नहीं लिया. अंबानी ने कोरोना वायरस महामारी के चलते व्यापार और अर्थव्यवस्था प्रभावित होने के कारण स्वेच्छा से अपना पारिश्रमिक छोड़ दिया था. आरआईएल ने अपनी ताजा वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 के लिए अंबानी का पारिश्रमिक शून्य था.

जून तिमाही के नतीजों के बाद मल्टीबैगर स्टॉक Titan Company में तेजी देखने को मिली है. आज शेयर शुक्रवार के बंद भाव 2433 रुपये की तुलना में 2475 रुपये पर पहुंच गया. निवेशकों के लिए मल्टीबैगर रहे इस शेयर में पिछले कुछ दिनों से तेली आ रही है. बीते 1 महीनों में यह शेयर 15 फीसदी मजबूत हुआ है. वहीं 1 साल में इस शेयर में अपने लो से करीब 40 फीसदी तेजी आई है.

घरेलू शेयर बाजारों में कमजोरी के चलते रुपया सोमवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी स्टॉक इंडेक्स डॉलर के मुकाबले 22 पैसे टूटकर 79.46 पर आ गया. मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि विदेशी कोषों की आवक जारी रहने से रुपये की गिरावट को थामने में कुछ मदद मिली. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 79.50 पर कमजोर रुख के साथ खुला था. पिछले सत्र में रुपया डॉलर के मुकाबले 16 पैसे बढ़कर 79.24 पर बंद हुआ था.

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI के शेयरों में आज गिरावट देखने को मिल रही है. शेयर करीब 3 फीसदी की कमजोरी के साथ 515 रुपये के भाव पर आ गया और यह सेंसेक्स 30 का टॉप लूजर नजर आ रहा है. असल में बैंक के तिमाही नतीजे अनुमान से कमजोर रहे. बैंक का मुनाफा सालाना आधार पर सिर्फ 6 फीसदी ही बढ़ा है. अदर इनकम और आपरेटिंग प्रॉफिट अनुमान से कमजोर रहे. इसके बाद भी ज्यादातर ब्रोकरेज हाउस शेयर को पॉजिटिव हैं.

महंगे क्रूड के बाद भी पेट्रोल और डीजल की कीमतों में स्थिरता के चलते तेल कंपनियों को भारी घाटा सहना पड़ रहा है. जून तिमाही में IOC, HPCL और BPCL का कंबाइंड घाटा करीब 18480 करोड़ रुपये रहा है. हालांकि इसके बाद भी पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर आज यानी 8 अगस्त को भी राहत मिली है. देश की राजधानी दिल्ली की बात करें तो 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 96.72 रुपये है, जबकि 1 लीटर डीजल का भाव 89.62 रुपये है.

आज यानी 8 अगस्त को Bharti Airtel और Adani Ports के जून तिमाही के नतीजे आएंगे. इनके अलावा Power Grid Corporation, NALCO, Astrazeneca Pharma, City Union Bank, Delhivery, Dhanlaxmi Bank, GNFC, JK Tyre, Vedant Fashions, Subex, Torrent Power और Whirlpool के भी तिमाही नतीजे जारी किए जाएंगे.

SBI का जून तिमाही में मुनाफा सालाना आधार पर 6.7 फीसदी बढ़कर 6,068 करोड़ रहा है. आपरेटिंग प्रॉफिट और अदर इनकम कमजोर रहने से बैंक का मुनाफा कुछ कमजोर रहा. हालांकि लोअर प्रोविजनिंग का सपोर्ट मिला. नेट इंटरेस्ट इनकम 12.87 फीसदी बढ़कर 31,196 करोड़ रहा.

ज्वैलरी और लाइफ स्टाइल प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी Titan का मुनाफा जून तिमाही में करीब 44 गुना बढ़कर 790 करोड़ रुपये रहा है. एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी को 18 करोड़ का मुनाफरा हुआ था.

आयल मार्केटिंग कंपनी BPCL को जून तिमाही में 6,290.80 करोड़ का घाटा हुआ है. एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी को 3,192.58 करोड़ का मुनाफा हुआ था. इनपुट कास्ट बढ़ने से कंपनी को घाटा हुआ है. आपरेशंस से आने वाला रेवेन्यू 54 फीसदी बढ़कर 1.38 लाख करोड़ रहा है. कंपनी का GRM 27.51 डॉलर प्रति बैरल रहा है.

HPCL को जून तिमाही में 10,197 करोड़ का घाटा हुआ है. एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी को 1,795 करोड़ का मुनाफा हुआ था. कंपनी का रेवेन्यू सालाना आधार पर 56 फीसदी बढ़कर 1.22 लाख करोड़ हो गया है.

One 97 Communications (Paytm) को जून तिमाही में 645.4 करोड़ का घाटा हुआ है. पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी का घाटा 381.9 करोड़ रहा था. रेवेन्यू 88.5 फीसदी बढ़कर 1,679.60 करोड़ हो गया है.

FSN E-Commerce Ventures का मुनाफा सालाना आधार पर 42.24 फीसदी बढ़कर 5.01 करोड़ रहा है. जबकि रेवेन्यू 1,148.4 करोड़ रुपये रहा है.

ब्रेंट क्रूड 100 डॉलर के नीचे बना हुआ है. इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड 95 डॉलर प्रति बैरल के लेवल पर है. वहीं अमेरिकी क्रूड 89 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है. यूएस में 10 साल की बॉन्ड यील्ड 2.827 फीसदी के लेवल पर है.

आज के कारोबार में प्रमुख एशियाई बाजारों में बिकवाली देखने को मिल रही है. SGX Nifty में 0.25 फीसदी गिरावट है तो निक्केई 225 में 0.12 फीसदी बढ़त दिख रही है. स्ट्रेट टाइम्स में 0.68 फीसदी और हैंगसेंग में 0.77 फीसदी की कमजोरी है. ताइवान वेटेड में 0.32 फीसदी कमजोरी है तो कोस्पी में भी 0.34 फीसदी गिरावट है. शंघाई कंपोजिट में 0.02 फीसदी की मामूली तेजी है.

शुक्रवार को अमेरिकी बाजारों में मिला जुला रुख रहा है. शुक्रवार को Dow Jones में 77 अंकों या 0.23 फीसदी की तेजी रही और यह 32,803.47 के स्तर पर बंद हुआ है. NASDAQ में 63 अंकों की कमजोरी रही और यह 12,657.55 के स्तर पर बंद हुआ. जबकि S&P 500 इंडेक्स में 7 अंकों की मामूली कमजोरी रही है और यह 4,145.19 के लेवल पर बंद हुआ. बीते हफ्ते Dow Jones में मामूली गिरावट रही, लेकिन S&P 500 में 0.4 फीसदी और Nasdaq में 2.15 फीसदी बढ़त रही.

कॉल ऑप्शन- अर्थ, प्रकार और प्राइस इन्फ्लुएंसर्स

Long Call Option Trading

Elearnmarkets (ELM) is a complete financial market portal where the market experts have taken the onus to spread financial education. ELM constantly experiments with new education methodologies and technologies to make financial education effective, affordable and accessible to all. You can connect with us on Twitter @elearnmarkets.

शेयर मार्केट: सेंसेक्स 740 पॉइंट की बढ़त स्टॉक इंडेक्स के साथ 58683 पर बंद, निफ्टी 17250 के ऊपर पहुंचा; ऑटो और बैंकिंग सेक्टर में तेजी

हफ्ते के तीसरे कारोबारी दिन शेयर बाजार बढ़त के साथ खुला और बढ़त के साथ बंद भी हुआ, इसमें पूरे दिन तेजी रही। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 740 पॉइंट की बढ़त के साथ 58,683 पर बंद हुआ। वहीं सेंसेक्स 146 पॉइंट की बढ़त के साथ 17,472 पर बंद हुआ।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 419 पॉइंट की बढ़त के साथ 58,372 पर खुला था। वहीं NSE का निफ्टी 17,468 पर खुला। इसने पूरे कारोबारी दिन में 58,727 का ऊपरी और 58,176 का निचला स्तर बनाया। सेंसेक्स में ऑटो और बैंकिंग सेक्टर के शेयर टॉप पर हैं। इसमें मारुति, बजाज फाइनेंस, महिंद्रा एंड महिंद्रा और नेस्ले इंडिया में 2% से ज्यादा की बढ़त के साथ बंद हुए। वहीं टाटा स्टील, टेक महिंद्रा, विप्रो और भारतीय एयरटेल गिरावट में रहे।

सेंसेक्स के 30 शेयर्स में से 21 शेयर्स में बढ़त और 9 में गिरावट रही।

मेटल और फॉर्मा इंडेक्स में गिरावट
निफ्टी के 11 सेक्टोरल इंडेक्स में से मेटल और फार्मा इंडेक्स में गिरावट रही, बाकी 9 में बढ़त क साथ बंद हुए। सबसे ज्यादा मीडिया इंडेक्स में 2.28% की बढ़त है। वहीं बैंक, ऑटो, फिन सर्विस, रियलटी और प्राइवेट बैंक करीब 1% से ज्यादा की बढ़त स्टॉक इंडेक्स के साथ कारोबार कर रहे हैं। वहीं FMCG, IT, फार्मा और PSU बैंक में मामूली बढ़त दिखी।

चारों प्रमुख इंडेक्स में बढ़त
निफ्टी के चार प्रमुख इंडेक्स नेक्स्ट 50, मिडकैप, फाइनेंशियल और बैंक बढ़त में रहे। इसके 50 में से केवल 32 शेयर तेजी में और बाकी 18 नीचे रहे। बढ़ने वाले प्रमुख स्टॉक में बजाज फाइनेंस, HDFC लाइफ, एक्सिस बैंक लाइफ, टाटा कंज्यूमर, हीरो मोटोकॉर्प, मारुति, रिलायंस और टाटा मोटर्स रहे।

एक्सिस बैंक 1.6 अरब डॉलर में इंडिया कंज्यूमर बिजनेस खरीदेगा
प्राइवेट सेक्टर के एक्सिस बैंक 1.6 अरब डॉलर में सिटी बैंक का भारतीय कंज्यूमर बिजनेस खरीद रही है। यह डील पूरी तरह कैश में होगी। सिटी बैंक ने 30 मार्च को इसकी जानकारी दी। इस डील में सिटी बैंक का क्रेडिट कार्ड, रिटेल बैंकिंग, वेल्थ मैनेजमेंट और कंज्यूमर लोन का बिजनेस शामिल है।

सिटी बैंक ने कहा, "इस डील में सिटी बैंक का नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी सिटीकॉर्प फाइनेंस इंडिया लिमिटेड का कारोबार भी शामिल है। इसमें एसेट-बैक्ड फाइनेंसिंग बिजनेस भी एक्सिस बैंक को मिलेगा। इसमें कॉमर्शियल व्हीकल और कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट लोन के साथ पर्सनल लोन भी शामिल है।

रेटिंग: 4.25
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 310
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *